जिन ज़ख्मों पर रोज़ दवाई लगती है's image
293K

जिन ज़ख्मों पर रोज़ दवाई लगती है

जिन ज़ख्मों पर रोज़ दवाई लगती है

एक अरसे से दबी-दबाई लगती है

कँधों पे जो देश उठाए उनकी गर्दन

कुछ मकसद से झुकी-झुकाई लगती है

कदमों से वो रौंद रहे सड़कों का सीना

अंदर तक कोई शूल चुभाई ल

Read More! Earn More! Learn More!