मालूम हो चला है's image
264K

मालूम हो चला है

मालूम हो चला है, मैं फिर से ठगा गया हूँ

कभी लब्जो की लाहज्जो में, कभी उम्मीदों की मृगतृष्णा में ।


मैं ठगा गया हूँ विश्वास की प्रपंचना में ।


हासिये प

Read More! Earn More! Learn More!