अधूरे ख्वाब's image
73K

अधूरे ख्वाब

मैं लिखता हूं महज
खयाल दिल के,
तू कभी मिलने आए तो 
ये कविता में बदले,

एक अरसे से कुछ ख
Read More! Earn More! Learn More!